Docstoc

Hindi_Essay_Cir_2009_10_uni

Document Sample
Hindi_Essay_Cir_2009_10_uni Powered By Docstoc
					5122 /याजबाषा /101                                                            27 नवम्फय,   2009


प्रबायी अधधकायी,
याजबाषा ववबाग,
                                     े
बायतीम रयज़वव फैंक / साववजननक ऺेत्र क सबी फैंक तथा
अखिर बायतीम ववत्तीम सॊस्थाएॉ        एवॊ
                              े
बायतीम रघु उद्योग ववकास फैंक क सबी
अॊचर / ऺेत्रीम / शािा कामावरम, प्रधान कामावरम के
रिनऊ, भॊफई तथा नई ददल्री स्स्थत ववबाग,
        ु
सबी अॊचर रेिा-ऩयीऺा कऺ एवॊ आॊतरयक
                  े
रेिा ऩयीऺा ववबाग क प्रबायी अधधकायी,
एसवीसीएर, सीजीटीएभएसई, स्भेया एवॊ आईएसटीएसएर                       े
                                                                  क प्रभुि।


                                      ऩरयऩत्र सॊ. दहन्दी   13/2009-2010
भहोदम/भहोदमा,


                        ऩाॉचवीॊ अखिर बायतीम ससडफी अॊतय फैंक दहन्दी ननफॊध प्रनतमोधगता


                                                           े                            े
        जैसाकक आऩको ववददत हैं, कामावरमीन काभकाज भें दहॊदी क प्रमोग को प्रोत्सादहत कयने क उद्देश्म
से, हभाया फैंक अखिर बायतीम दहन्दी ननफॊध प्रनतमोधगता आमोस्जत कयता आमा है , उसी क्रभ भें इस वषव
                                        े
बी फैंक ने एक दहन्दी ननफॊध प्रनतमोधगता क आमोजन का ननर्वम ककमा है , स्जसका ववस्तत वववयर्
                                                                               ृ
सॊरग्नक भें ददमा गमा है ।      ननफॊध ननम्नसरखित ववषमों भें से ककसी एक ऩय सरिे जा सकते ह्ंॊ-


                   1.      दहन्दी बाषा का फदरता स्वरूऩ
                   2.                          े
                           हार की वैस्िक भॊदी क सफक
                   3.      ववकास प्रकक्रमा औय ववत्तीम सभावेशन
                   4.      ऊजाव फचतकायी उद्योग : सभम की भाॊग


        आऩसे अनयोध है कक कृऩमा इस ऩरयऩत्र की ववषम-वस्तु से अऩने सबी कामावरमों/शािाओॊ को
               ु
                                                                                े
अवगत कयाएॉ औय उनभें कामवयत अधधक से अधधक स्टाप-सदस्मों को अऩनी प्रववविमाॉ बेजने क सरए
प्रेरयत कय इस आमोजन को सपर फनाएॉ।               प्रववविमाॉ हभें    31 ददसम्फय, 2009 तक सभर जानी चादहए।
        इस फीच कृऩमा प्रानि-सूचना दें ।
                                                                                     बवदीमा,
                                                                                       हस्ता/-
                                                                                   (अननता सचदे वा)
सॊरग्नक् मथोक्त                                                                     भहाप्रफॊधक (दहन्दी)
5122/ Rajbhasha /101                                            November 27, 2009

Officer-in-charge of Rajbhasha Vibhag of RBI,
All Public Sector Banks & All India Financial Institutions
                      &
Officers in-charge of All Zos / ROs / BOs of SIDBI,
All Head Office departments at Lucknow, Mumbai & New Delhi,
All Zonal Audit Cells & Internal Audit Department,
Heads of SVCL, CGTMSE, SMERA & ISTSL

                        Circular No. Hindi 13/ 2009 - 2010
Sir/Madam,

             Fifth All India SIDBI Inter Bank Hindi Essay Competition

        As you would be kindly aware, our Bank has been organising an All India
Hindi Eassy Competition, for the purpose of encouraging the use of Hindi in
Official work. Likewise, this year too the Bank has decided to hold a Hindi Essay
Competition, the details whereof are given in the Annexure.    The Essay can be
written on any one of the following topics :


               1.   दहन्दी बाषा का फदरता स्वरूऩ
               2.                       े
                    हार की वैस्िक भॊदी क सफक
               3.   ववकास प्रकक्रमा औय ववत्तीम सभावेशन
               4.   ऊजाव फचतकायी उद्योग : सभम की भाॊग


       You are requested to kindly    bring the contents of this circular to the notice
of all the offices/branches under     your jurisdiction and encourage a maximum
number of staff members to submit     their entries for the competition so as to make
it a grand success. It may please     be ensured that the entries reach us latest by
December 31, 2009.

      Meanwhile, please acknowledge the receipt.

                                                            Yours faithfully,

                                                                Sd/-
                                                           (Anita Sachdeva)
                                                    General Manager (Hindi)
Encl. : As above
                                                                                    縿¥¸Š›¸ˆÅ


                ऩाॉचवीॊ अखिर बायतीम ससडफी अॊतय फैंक दहॊदी ननफॊध प्रनतमोधगता




नाभ                 :   ऩाॉचवीॊ अखिर बायतीम ससडफी अॊतय फैंक दहॊदी ननफॊध प्रनतमोधगता


ववषम                :   1.    दहन्दी बाषा का फदरता स्वरूऩ
                        2.                        े
                              हार की वैस्िक भॊदी क सफक
                        3.    ववकास प्रकक्रमा औय ववत्तीम सभावेशन
                        4.    ऊजाव फचतकायी उद्योग : सभम की भाॊग


शब्द सीभा           :   उक्त भें से ककसी एक ववषम ऩय अधधकतभ 5000 शब्द


ऩात्रता         :                                                           े
                        प्रनतमोधगता भें बायतीम रयज़वव फैंक, साववजननक ऺेत्र क सबी फैंकों तथा
                        अखिर बायतीम ववत्तीम सॊस्थाओॊ भें कामवयत अधधकायी एवॊ कभवचायी
                        बाग रे सकते हैं । याजबाषा अधधकायी / दहन्दी अधधकायी, दहन्दी
                                                 े
                        अनवादक तथा दहन्दी सहामक क ऩद ऩय कामवयत कभवचायी इस
                          ु
                                                  े
                        प्रनतमोधगता भें बाग रेने क ऩात्र नहीॊ हैं ।


भल्माॊकन
 ू              :       सबी ऩात्र ननफॊधों का भल्माॊकन बायतीम रघु उद्योग ववकास फैंक द्वाया
                                              ू
                        गदित एक ससभनत कये गी । भल्माॊकन ससभनत का ननर्वम अॊनतभ,
                                                ू
                        सववभान्म औय सबी प्रनतबाधगमों ऩय फाध्मकायी होगा ।


ऩयस्काय
 ु          :           ननम्नसरखित ऩयस्काय ननधावरयत ककए गए हैं : -
                                    ु


                        प्रथभ ऩयस्काय
                               ु                :        15,000 रुऩमे
                        दद्वतीम ऩयस्काय
                                 ु              :        10,000 रुऩमे
                        ततीम ऩयस्काय
                         ृ    ु                 :          7,500 रुऩमे
                        ववशेष ऩयस्काय (सॊख्मा 3) :
                               ु                           5,000 रुऩमे (प्रत्मेक)


अॊनतभ नतधथ :                                                 े
                        प्रववविमाॉ 31 ददसम्फय, 2009 को मा इसक ऩवव भहाप्रफॊधक(दहन्दी),
                                                               ू
                        बायतीम रघु उद्योग ववकास फैंक, प्रधान कामावरम, 15, अशोक भागव,
                                                                              े
                        रिनऊ - 226 001 को प्राि हो जानी चादहए। ननधावरयत नतधथ क फाद
                        प्राि होने वारी प्रववविमों को प्रनतमोधगता भें शासभर नहीॊ ककमा जाएगा।
अन्म शतें :    (1)               े           े
                      ननफॊध परस्कऩ काग़ज ऩय कवर एक ओय सभधचत हासशमा
                             ु                          ु
                      छोड़कय, टाइऩ ककमा हुआ अथवा स्वच्छ एवॊ सऩािय़ हस्तरेि
                                                              ु
                      भें होना चादहए । मदद सॊबव हो तो उधचत भाध्मभ से प्रवववि
                               े
                      सबजवाने क साथ-साथ ननफॊध की सॉफ्ट प्रनत बी ननम्न ई-भेर
                      आईडी    ऩय    प्रेवषत   की   जाऍ।   (i)     rvsingh@sidbi.in   (ii)
                      nksolanki@sidbi.in


               (2)    प्रत्मेक ननफॊध की दो प्रनतमाॉ बेजी जाएॉ ।


                (3)                  े
                      आवयर् ऩष्ठ ऩय कवर प्रनतमोगी का वववयर्, अथावत - नाभ,
                             ृ
                      ऩदनाभ, भातबाषा, फैंक का
                                ृ                     नाभ, कामावरम/शािा का नाभ,
                      ऩता, दयबाष सॊख्मा, आदद सरिा जाना चादहए । उक्त आवयर्
                            ू
                                     े
                      ऩष्ठ अरग कयने क ऩश्चात ही प्रववविमों को भल्माॊकन हे तु चमन
                       ृ                                       ू
                             े
                      ससभनत क ऩास बेजा जाएगा ।


              (4)              े                       ु ॊ
                      प्रवववि क साथ ननधावरयत प्ररूऩ (अनफध -I) भें भौसरकता
                      प्रभार्ऩत्र बी बेजा जाए। भौसरकता प्रभार्ऩत्र न होने ऩय
                      प्रववविमों ऩय ववचाय नहीॊ ककमा जाएगा ।


              (5)                            े
                      सबी प्रववविमाॉ सॊस्था क प्रधान कामावरम / भख्मारम क
                                                                ु       े
                                                         े
                      याजबाषा ववबाग / प्रशासननक कामावरम क भाध्मभ से औय
                         ॊ                        े
                      सॊफधधत फैंक/ववत्तीम सॊस्था क ऩत्र शीषव ऩय ननधावरयत प्ररूऩ
                         ु ॊ                                       े
                      (अनफध-II) भें तैमाय ककए गए वह अग्रेषर् ऩत्र क साथ प्रेवषत
                      की जाएॉ । व्मक्तक्तगत तौय ऩय मा बफना उधचत भाध्मभ से बेजी
                      गई प्रववविमों ऩय ववचाय नहीॊ ककमा जाएगा ।


              (6)                  े
                      प्रनतमोधगता क ऩरयर्ाभ फैंक/ववत्तीम सॊस्थाओॊ को मथासभम
                      सधचत ककए जाएॉगे । इस फाये भें प्रनतबागी से सीधे कोई ऩत्र-
                       ू
                      व्मवहाय स्वीकाय नहीॊ ककमा जाएगा।


              (7)                     े
                      ऩयस्काय ववतयर् क सरए आने-जाने औय िहयने आदद का व्मम
                       ु
                                े
                      ववजेताओॊ क फैंक/ववत्तीम सॊस्था को वहन कयना होगा ।
(8)                  ॊ                     े
      प्रनतमोधगता सॊफधी ककसी अन्म जानकायी क सरए हभाये फैंक के
                                                     ै
      दहन्दी ववबाग से दयबाष सॊ. 0522-2288546-50 एवॊ पक्स सॊ.
                       ू
                          व
      0522-2288459 ऩय सॊऩक ककमा जा सकता है ।


9)    बायतीम रघु उद्योग ववकास फैंक ऩयस्कृत अथवा प्राि रेिों को
                                    ु
      अऩनी ककसी ऩबत्रका भें प्रकासशत कय सकता है । अत्, उक्त
                                                      े
      रेिों का कॉऩीयाइट बायतीम रघु उद्योग ववकास फैंक क ऩास
      यहे गा।
                             **************
                                                                                                                           ु ॊ
                                                                                                                         अनफध-I


                                                   भौसरकता प्रभार् ऩत्र




भैं ................................................................................ (नाभ) घोषर्ा कयता/ कयती हूॉ कक

भैं................................................................................................................ (फैंक / ववत्तीम

सॊस्था का नाभ तथा ऩया ऩता) भें ........................................... ऩद ऩय कामवयत हूॉ तथा भेयी
                   ू

भातबाषा .................................
   ृ                                                  है । भैं प्रभाखर्त कयता / कयती हूॉ कक                         "दहन्दी बाषा

का फदरता स्वरूऩ" अथवा                                         े
                                         "हार की वैस्िक भॊदी क सफक" अथवा                                "ववकास प्रकक्रमा औय

ववत्तीम सभावेशन"           अथवा         "ऊजाव फचतकायी उद्योग : सभम की भाॊग"                          ऩय      सरिा गमा ननफॊध

भेयी भौसरक कृनत है औय अफ तक कहीॊ प्रकासशत अथवा प्रसारयत नहीॊ हुआ है ।




                                                                                                                          हस्ताऺय




                                                                 नाभ         .........................................................

                                                                     ददनाॊक .......................................................

                                                                        स्थान.......................................................




                                                     **************

                                                                 .
                                                                                        ु ॊ
                                                                                      अनफध-II


                                     अग्रेषर् ऩत्र का प्ररूऩ


भहाप्रफॊधक (दहन्दी)
बायतीम रघु उद्योग ववकास फैंक
प्रधान कामावरम
15, अशोक भागव
रिनऊ - 226 001




भहोदमा,


                       ऩाॉचवीॊ अखिर बायतीम ससडफी अॊतय फैंक          दहॊदी ननफॊध प्रनतमोधगता


                    े                              े
        हभ इस ऩत्र क साथ अऩने फैंक/ववत्तीम सॊस्था क ननम्नसरखित अधधकारयमों /कभवचारयमें
द्वाया "दहन्दी बाषा का फदरता स्वरूऩ" अथवा                           े
                                               "हार की वैस्िक भॊदी क सफक" अथवा          "ववकास
प्रकक्रमा औय ववत्तीम सभावेशन"     अथवा     "ऊजाव फचतकायी उद्योग : सभम की भाॊग" ववषम ऩय
                                                         ु ॊ
सरखित ननफॊध की दो-दो प्रनतमाॉ प्रेवषत कय यहे हैं औय मह अनशसा कयते हैं कक उक्त ननफॊधों को
प्रनतमोधगता भें शासभर ककमा जाए ।


          क्रभ सॊ.              कभवचायी का नाभ                 भातबाषा
                                                                  ृ              कामावरम / शािा का
                                                                                         नाभ
             1
             2
             3
             4


                                                                                        बवदीम,




                                                 प्रबायी याजबाषा अधधकायी / प्रशासननक अधधकायी
सॊरग्नक् मथोक्त
                                         **************

				
DOCUMENT INFO
Shared By:
Categories:
Stats:
views:17
posted:11/16/2010
language:Hindi
pages:8